रविवार, 18 जून 2017

नशेमन हमारा जलाया गया

वफ़ादार को ही सताया गया।
यहाँ कातिलों को बचाया गया।।